बॉलीवुड अभिनेता कमल हासन ने देश में  बिरयानी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की हैं. दरअसल उन्होंने ये मांग ‘जल्लीकट्टू’ के सन्दर्भ में की हैं.

इंडिया टुडे साउथ कॉक्‍क्‍लेव के दौरान हासन ने कहा, ”यदि आप जल्‍लीकट्टू पर प्रतिबंध चाहते हैं तो फिर बिरयानी पर भी प्रतिबंध लगाओ. मैं जल्‍लीकट्टू का दीवाना हूं.” गौरतलब है कि जल्‍लीकट्टू को सुप्रीम कोर्ट ने साल 2014 में प्रतिबंधित कर दिया था. कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि इससे जानवरों पर क्रूरता होती है.

कमल ने बताया कि वो जल्लीकट्टू के बहुत बड़े फैन हैं और कई बार बैलों की दौड़ के इस उत्सव में हिस्सा ले चुके हैं. उन्होंने कहा, ‘मैंने यह खेल खेला है. मैं कुछ उन गिने-चुने कलाकारों में से हूं जो यह दावा कर सकते हैं कि उसने सांड को गले लगाया है. मैं एक तमिल हूं और इस खेल को पसंद करता हूं.’

उन्होंने जल्लीकट्टू को स्पेन के फेमस बुल-फाइटिंग खेल के सामान बताये जाने को भी गलत ठहराते हुए कहा कि स्पेन में बैलों की लड़ाई में जान जाती है लेकिन तमिलनाडु में बैलों को भगवान का दर्जा दिया जाता है. उन्‍होंने कहा, ”यह सांड को रोकने के बारे में है ना कि उसके सींग तोड़कर या किसी अन्‍य तरह से उसे शारीरिक नुकसान से जुड़ा है

कमल ने कहा स्‍पेन में सांडों को नुकसान पहुंचाया जाता है और उन्‍हें मार दिया जाता है. तमिलनाडु में सांडों को देवता की तरह माना जाता है.”


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें