Saturday, May 15, 2021

रोचक है फ्रांसीसी राष्ट्रपति ओलांद की लव स्टोरी

- Advertisement -
फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर हिस्सा लेने के लिए भारत पहुंच गए। इस दौरान वह कई अन्य कार्यक्रमों में भी हिस्सा लेंगे।
मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होने आए फ्रांसीसी राष्ट्रपति के साथ ‘फर्स्ट लेडी’ नहीं आई। इसका मतलब यह है कि पिछले गणतंत्र दिवस के मौके पर जिस कुर्सी पर मिशेल ओबामा बैठीं थी वह इस बार खाली रहेगी। लेकिन ये तो जानना लाजमी है कि आखिर वो फर्स्ट लेडी है कौन?
love story
फ्रांस्वा ओलांद के जीवन में अब तक तीन महिलाओं दस्तक दी है जिसमें सबसे लंबा साथ उनकी पहली पार्टनर सिगोलिन रॉयल ने निभाया। रॉयल से उनकी चार संताने हैं। 2007 में दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया।
इसके कुछ महीने बाद ही ओलांद और फ्रांसीसी पत्रकार वलेरी ट्रीरवीलर एक दूसरे के करीब आ गए। ट्रीरवीलर ने आधिकारिक तौर पर अपने संबंधों के बारे में बताया था। इसके बाद वह राष्ट्रपति भवन में रहने लगीं। 2014 में दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया।
इसके बाद उनके जीवन में अभिनेत्री जूली गेयेट ने दस्तक दिया। हालांकि, अभी तक दोनों में से किसी ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है लेकिन गेयेट की एक किताब से जो बातें सामने आई हैं उससे यह साफ हो है कि ये दोनों लंबे समय से रिलेशन में हैं।
जूली की किताब में इस बात का जिक्र किया गया है कि ओलांद राष्ट्रपति भवन (ईलिसी पैलेस) से बाहर कई बार गेयेट के घर पर रातें गुजार चुके हैं। यहां दो बार आतंकी हमले हो भी हो चुके हैं बावजूद इसके वे गेयेट के घर जाते रहे हैं।

 

पिछले साल चार्ली हेब्दो पर हुए हमले के बाद ओलांद को सुरक्षा की दृष्टि से राष्ट्रपति भवन में ही रहने को कहा गया था। पिछले साल ही पेरिस में एक बड़ा आतंकी हमला भी हुआ था।
किताब में इस बात का खुलासा भी हुआ है कि पिछले साल की गर्मियों में राष्ट्रपति ने उनके साथ छुट्टियां बिताई। हालांकि, राष्ट्रपति भवन ने कुछ और ही बयान दिया था।
जूली की किताब में यह भी जिक्र भी किया गया है कि उनके प्रेमी (ओलांद) खाने-पीने में काफी लालची किस्म के हैं उन्हें ड्रेसिंग सेंस भी नहीं है। उनकी पूर्व प्रेमिका वलेरी ट्रीरवीलर भी ओलांद को लेकर इसी तरह की टिप्पणियां कर चुकी हैं।
फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी को 2008 में गणतंत्र दिवस में शामिल होने का न्योता दिया गया था लेकिन भारत की ओर से उनसे अनुरोध किया गया था कि वह अपनी प्रेमिका कार्ला ब्रुनी को साथ में लेकर न आएं।
हालांकि, ओलांद के मामले में इस बात की छूट दी गई थी कि वे अपने साथ फर्स्ट लेडी को लेकर आ सकते हैं जिसके बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि उनके साथ फर्स्ट लेडी भी आएंगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

 

साभार अमर उजाला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles