India's Virhat Kohli, right, tips his hat as he celebrate with teammates their series win over Australia after play was called off on day 5 of their cricket test match in Sydney, Monday, Jan. 7, 2019. The match is a draw and India wins the series 2-1.(AP Photo/Rick Rycroft)

सिडनी में विराट कोहली वाली भारतीय क्रिकेट टीम ने इतिहास रच दिया। सोमवार को सिडनी टेस्ट के पांचवें दिन जब बारिश के कारण अंपायर्स ने स्टंप्स का फैसला लिया तब इसके साथ ही भारत ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया।

1947 से लगातार ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर रही भारतीय टीम वहां कोई सीरीज नहीं जीत पाई थी। लेकिन कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया।  भारत ने एडीलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था। आस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में 146 रन से जीतकर वापसी की लेकिन भारत ने मेलबर्न में तीसरा मैच 137 रन से जीता और श्रृंखला में 2-1 की बढ़त बनायी जो आखिर में निर्णायक साबित हुई। 

Loading...

भारत ने अपनी पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत के शतकों की मदद से 7 विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित कर दी। इसके बाद कुलदीप यादव के पांच विकेटों की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसकी पहली पारी में 300 रनों पर समेट दिया। चेतेश्वर पुजारा को इस मैच के लिए् मैन ऑफ द मैच और सीरीज में उनके उम्दा प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिया गया। 

भारत ने 322 रनों की बढ़त के साथ ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन दिया। लेकिन मौसम की आंख-मिचौली ने ऑस्ट्रेलिया को थोड़ी राहत दी। भारत का यह वहां 12वां दौरा था। भारत ने विदेशी दौरों पर अब सिर्फ साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।

भारत ने आजाद मिलने के कुछ वक्त बाद पहली बार 1947-48 में लाला अमरनाथ की अगुवाई में ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था। तब उसका सामना सर डॉन ब्रैडमैन की आस्ट्रेलियाई टीम से हुआ था। तब से लेकर अब जाकर भारत का सीरीज जीतने का इंतजार विराट कोहली की टीम ने खत्म किया। 

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें