अज़ान को लेकर आपतिजनक ट्वीट करने के मामलें में सोनू निगम के खिलाफ एफआईआर दर्ज

गायक सोनू निगम को अज़ान के खिलाफ विवादित ट्वीट करना भारी पड़ गया हैं. मुस्लिमों की धार्मिक भावनाएं आहत करने को लेकर औरंगाबाद में पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की हैं. ये एफआईआर मिल्लत बचाओ तहरीक कमेटी की शिकायत पर दर्ज कराई गई हैं.

दरअसल, सोनू निगम ने सोमवार को एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा था कि भगवान् सभी को आशीर्वाद दे, मैं मुस्लिम नही हूँ इसके बाद भी मुझे सुबह सुबह अजान की आवाज से उठना पड़ता है.’ अगले ट्वीट में उन्होंने कहा था आखिर देश में ये धार्मिक रीतिया कब खत्म होंगी. इसके बाद एक और ट्वीट में उन्होंने कहा था, जब मोहम्मद ने इस्लाम की स्थापना की थी, जब बिजली नहीं थी. फिर एडिसन के आविष्कार के बाद ऐसे चोंचलों की क्या जरूरत है. सोनू ने मस्जिदों और गुरद्वारों में इस्तेमाल होने वाले लाउडस्पीकरों को गुंडागर्दी बताया था.

हालांकि विवाद बड़ने पर उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि वो अजान के नहीं बल्कि मंदिर और मस्जिद में बजने वाले लाउड स्पीकर के खिलाफ है. हालांकि उन्होंने कहा कि वे अपने बयान पर अब भी कायम हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘प्रिय सभी, आपका मत आपका मानसिक स्‍तर दर्शाता है. मैं अब भी अपने बयान पर कायम हूं कि मस्जिद और मंदिर में लाउडस्‍पीकर नहीं बजने चाहिए.’

इस पर वाजिद ने सोनू निगम को जवाब देते हुए लिखा ,’ हर किसी को अपनी बात कहने का अधिकार है लेकिन ऐसी बाते कहने से बचना चाहिए जिससे किसी की भावनाए आहत होती हो. उम्मीद करता हूँ तुम समझ गए होंगे मैं क्या कहना चाहता हूँ.’ इस पर सोनू निगम ने जवाब दिया,’ प्रिय वाजिद, अगर एक बार आप मुस्लिम बनकर नही बल्कि एक आम नागरिक बनकर सोंचे , तो आप समझ पाएंगे कि सब किस विषय पर बात कर रहे हैं.’

विज्ञापन