नई दिल्ली: बॉलीवुड के मशहूर कॉमेडियन और एक्टर जगदीप उर्फ सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी को निधन के बाद गुरुवार को मजगांव के मुस्तफा बाजार सिया कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया गया। इस दौरान जगदीप के दोनों बेटे जावेद और नावेद जाफरी ने उन्हें नम आंखों से आखिरी विदाई दी।

उनके बेटे जावेद सुबह ही पार्थिव देह को लेकर कब्रिस्तान पहुंच चुके थे। हालांकि, करीब डेढ़ बजे तक परिवार को जगदीप के पोते और जावेद के बेटे मीजान जाफरी के आने का इंतजार करना पड़ा, जो किसी काम के सिलसिले में मुंबई से बाहर थे।

बताया जा रहा कि 81 साल के जगदीप लंबे समय से बीमारियों से परेशान चल रहे थे। जगदीप रमेश सिप्पी की फिल्म ‘शोले’ (1975) के किरदार सूरमा भोपाली के नाम से पॉपुलर थे। लगभग 400 फिल्मों में नजर आए जगदीप ने बिमल रॉय की फिल्म ‘दो बीघा जमीन’ से कॉमेडी में कदम रखा था।

फिल्म शोले में जगदीप के साथ काम कर चुके एक्टर धर्मेंद्र (Dharmendra) भी उनके निधन पर भावुक हो गए हैं. उनके  जगदीप (Jagdeep) के निधन पर ट्वीट किया है। धर्मेंद्र (Dharmendra) ने जगदीप (Jagdeep) को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा: ‘तुम भी चले गए… सदमे के बाद सदमा… जन्नत नसीब हो तुम्हें…”

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन