सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड के कथित ड्रग्स कनेक्शन को लेकर जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने धर्मा प्रोडक्शन के मालिक करण जौहर (Karan Johar) के घर हुई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज की कथित ड्रग्स पार्टी का वायरल फर्जी पाया है।

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारियों का कहना है कि वीडियो में दिख रही व्हाइट लाइन ट्यूब लाइन का रिफलेक्शन हो सकती है और फॉरेंसिक रिपोर्ट में कोई भी ड्रग्स की पुष्टि नहीं हुई और ना ही यह सबूत मिला है कि फिल्म स्टार्स पार्टी में ड्रग्स ले रहे थे। साथ ही एफएसएल ने आगे कहा कि वीडियो में ड्रग्स या कोई भी हानिकारक सामान वीडियो में दिखाई नहीं दिया है।

बता दें कि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने इस वायरल वीडिया पर आपत्ति जताते हुए एनसीबी में शिकायत दर्ज कराई थी। साल 2019 में करण जौहर ने इंस्टाग्राम पर अपना वीडियो शेयर किया था, जिसमें वो बॉलीवुड के टॉप स्टार्स के साथ घर में पार्टी कर रहे थे।

इससे पहले करण जौहर ने पार्टी वीडियो को लेकर एक स्टेटमेंट जारी किया था। जिसमे उन्होने कहा था कि  ‘कुछ समाचार चैनलों, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक्स मीडिया और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर ये गलत खबर चलाई जा रही है कि करण जौहर ने 28 जुलाई 2019 को अपने घर पर जो पार्टी दी थी, उसमें ड्रग्स का सेवन किया गया था। मैंने 2019 में ही ये स्पष्ट कर दिया था कि ये आरोप फर्जी हैं। अब दोबारा चलाए जा रहे इस अभियान को देखते हुए मैं फिर से ये कहता हूं कि ये आरोप निराधार और झूठे हैं। उस पार्टी में किसी भी ड्रग्स का सेवन नहीं किया गया था।’

अब फॉरेंसिक साइंस लेबोरेट्री ने करण जौहर की पार्टी के इस वीडियो को क्लीन चिट दे दी है। यानी एफएसएल ने इस वीडियो में ड्रग्स को लेकर कुछ भी गलत नहीं माना है, जो बताता है कि पार्टी में ड्रग्स का इस्तेमाल नहीं किया गया था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano