आस्ट्रेलिया दौरे पर भारत की ऐतिहासिक जीत में बड़ी भूमिका निभाने वाले मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) ने देश लौटते ही अपने मरहूम पिता की कब्र पर हाजिरी दी और फूल चढ़ा कर उनकी मगफिरत की दुआ की। बता दे कि वे अपने पिता के जनाजे में शामिल नहीं हो पाये थे।

पिता के लिए सिराज का यह समर्पण देखकर दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र उनकी तारीफ किये बगैर नहीं रह पाए। उन्होने ट्वीट किया, ‘सिराज, भारत का बहादुर दिल वाला बेटा। लव यू। नाज है तुझ पर। दिल पर वालिद की मौत का सदमा लिए तुम वतन की आन के लिए मैच खेलते रहे और एक अनहोनी जीत वतन के नाम दर्ज कर के लौटे। कल तुझे अपने वालिद की कब्र पर देखकर मन भर गया। जन्नत नसीब हो उन्हे।’

बता दें कि आटो रिक्शा चलाने वाले सिराज के पिता का 53 वर्ष की उम्र में बीते 20 नवंबर को निधन हो गया। सिराज के पिता को फेफड़े संबंधी थी। इससे एक सप्ताह पहले ही सिराज भारतीय टीम के साथ आस्ट्रेलिया पहुंचे थे। उन्हें घर लौटने का विकल्प दिया गया लेकिन वह टीम के साथ रूके।

सिराज ने वापसी के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, “मेरे लिये यह मुश्किल था। मैं बहुत दुखी था। मैने घर पर अपनी मां और परिवार से बात की जिन्होंने मेरा सहयोग किया। उन्होंने मुझसे अब्बा का सपना पूरा करने के लिये कहा । मेरी मंगेतर ने भी मुझे प्रेरित किया।”

अपने पिता को खुद का सबसे बड़ा सपोर्ट बताते हुए कहा कि मेरे पिता की हमेशा से ही यही इच्छा थी कि मेरे बेटे देश का नाम रोशन करना और वो मैं जरूर करूंगा। यह मेरे लिए बहुत बड़ा झटका है। मैंने अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा सपोर्ट खो दिया है। यह उनका सपना था कि मैं देश के लिए खेलूं और मैं खुश हूं कि मैंने इस बात को समझा और उनको खुश होने का मौका दिया।