Wednesday, July 28, 2021

 

 

 

अनुराग कश्यप पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पायल घोष पर मानहानि का मुकदमा

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई – शिकारी कभी कभी खुद शिकार बन जाता है या बात एक्ट्रेस पायल घोष से अच्छा कौन समझ सकता है, आपको बताते चले की पायल घोष वही अभिनेत्री हैं जिन्होंने अनुराग कश्यप पर यौन शौषण का आरोप लगाया था. अब खबर यह आई है की खुद पायल घोष ही मानहानि के केस में फंस गयी हैं.

गौरतलब है की फिल्म डायरेक्टर अनुराग घोष पर यौन शोषण का आरोप लगाने के बाद अभिनेत्री पायल घोष रातों-रात सुर्ख़ियों में छा गयी थी लेकिन अब एक अन्य अभिनेत्री रिचा चड्डा ने पायल घोष पर मानहानि का मुकदमा ठोक दिया है. यह मुकदमा 1.1 करोड़ की बड़ी धनराशी का है. फिलहाल बॉम्बे हाईकोर्ट ने फैसले को सुरक्ष‍ित रखते हुए सुनवाई को 7 अक्टूबर की तारीख दी है. कोर्ट के मुताबिक जिनके ख‍िलाफ केस दर्ज किया गया है उन्हें नोट‍िस नहीं दिया गया था इसल‍िए उन्हें कोर्ट में पेश होने को एक दिन का समय द‍िया गया है.

क्यों किया रिचा चड्डा ने मुकदमा ?

अनुराग कश्यप पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए अभिनेत्री पायल घोष ने ने कहा था की कुछ एक्ट्रेस है जो अनुराग के साथ काम करने को लेकर कुछ भी करने को तैयार हैं, जब उनसे एक्ट्रेस के नाम पूछे गये तो उन्होंने रिचा चड्डा, माही गिल और हम कुरैशी का नाम लिया, जिसके बाद रिचा चड्डा ने मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया. इसी केस की सुनवाई मंगलवार को हुई जहां दूसरे पक्ष से कोई भी नहीं आया. केस को एक दिन और बढ़ाते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने इसे 7 अक्टूबर तक टाल दिया है. कोर्ट का कहना है कि जवाबकर्ताओं को नोट‍िस नहीं भेजा गया था इसल‍िए उन्हें दोबारा नोट‍िस भेजा जाए.

क्या अन्य एक्ट्रेस भी करेंगी मानहानि का मुकदमा ?

जिन एक्ट्रेस का रिचा चड्डा ने नाम लिया था उन्हें दो अन्य अभिनेत्रियाँ हुमा कुरैशी तथा माही गिल ने अभी तक ऐसा कोई रेस्पोंस नही दिखाया है जिसे लेकर यह कहा जाए की यह दोनों भी रिचा चड्डा पर मुकदमा करने को तैयार है, ऋचा ने पहले भी बयान जारी किया था. पायल के इंटरव्यू के बाद ऋचा के वकील ने एक्ट्रेस का स्टेटमेंट रिलीज किया था. इसके मुताबिक ऋचा ने थर्ड पार्टी द्वारा उजागर किए गए विवाद और आरोप में उनके नाम को गलत और झूठे तरीके से घसीटने की निंदा की थी. ऋचा का मानना है कि किसी महिला के साथ अगर सच में कुछ गलत हुआ है तो उन्हें हर हाल में न्याय मिलना चाहिए. कार्यक्षेत्र में महिलाओं को भी बराबर का दर्जा मिला है और वहां उनकी प्रतिष्ठा पर कोई आंच ना आए यह भी ध्यान रखा जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles