जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी की समस्या को लेकर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने नेताओं को सुझाव दिया है. गंभीर ने कहा कि राजनेताओं को परिवार समेत बिनी किसी सुरक्षा के एक हफ्ता गुजारना चाहिए.

उन्होंने लिखा, कश्मीर के अशांत इलाकों में राजनेताओं को परिवार समेत बिनी किसी सुरक्षा के एक हफ्ता गुजारना चाहिए. अगर ऐसा करने में वो कामयाब होते हैं तभी 2019 के आम चुनाव में उन्हें चुनाव लड़ने का मौका दिया जाना चाहिए. जब तक राजनेता ऐसा नहीं करेंगे वो सैन्य बलों के दर्द को नहीं समझ सकते हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौतम गंभी ने एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया कि ‘मैं हैरान हूं कि भारत अब भी यह सोचता है कि पत्थरबाजों से कमरे में बैठकर बातचीत की जा सकती है. छोड़िये ये सब, और वास्तविकता को पहचानिए. मुझे अपनी राजनीतिक इच्छाशक्ति दिखाइए और मेरे सुरक्षाबलों, मेरे सीआरपीएफ को मौका दीजिए और तब परिणाम देखिये.’

गौरतलब है कि कश्मीर में सेना की गाड़ी के नीचे प्रदर्शनकारी के आने से मौत हो गई थी, जिसके बाद पुलिस ने सीआरपीएफ के श्रीनगर यूनिट के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की थी.