बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ एक के बाद एक मामले दर्ज किए जा रहे है। मुंबई के एक वकील ने गुरुवार को कंगना रनौत के खिलाफ स्थानीय अदालत का अपमान करने के मामले में शिकायत दर्ज कराई है।

कंगना पर आरोप है कि न्यायपालिका को लेकर एक ‘दुर्भावनापूर्ण’ ट्वीट पोस्ट किया। वकील ने मुंबई की एक स्थानीय अदालत के आदेश के बाद कंगना रनौत के विरूद्ध न्यायपालिका के बारे में एक ‘‘दुर्भावनापूर्ण’’ ट्वीट पोस्ट करने के लिए एक आपराधिक शिकायत दर्ज करवाई।

इससे पहले कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली को मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है। उन्हें सोमवार या मंगलवार को पूछताछ के लिए मुंबई के बांद्रा पुलिस स्टेशन में आकर बयान दर्ज करवाने के लिए कहा गया है। कंगना पर धार्मिक भावनाएं भड़काने, कलाकारों को हिन्दू-मुसलमान में बांटने और सामाजिक द्वेष को बढ़ावा देने का आरोप है।

बांद्रा के मजिस्ट्रेट कोर्ट में साहिल अशरफ अली ने याचिका दायर करके आरोप लगाया था कि कंगना और रंगोली जिस तरह से हिंदू आर्टिस्ट और मुस्लिम आर्टिस्ट को लेकर इंटरव्यू दे रही है और ट्वीट्स कर रही है। इससे कई लोगो की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

जिस पर कोर्ट ने कहा था कि शुरुआती तौर पर ये आरोप सही लगते है। जिसके बाद मुंबई के बांद्रा थाने में 17 अक्टूबर 2020 को वादी मुन्नवर अली उर्फ साहिल निवासी मुंबई की शिकायत पर अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था। जिसमें आईपीसी की धारा 153ए, 295ए, 124ए के तहत कंगना रनौत को आरोपी बनाया गया है।

शिकायत में कहा गया कि बांद्रा अदालत द्वारा पुलिस को रनौत के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश देने के बाद, रानौत ने न्यायपालिका के खिलाफ ‘‘दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक’’ ट्वीट पोस्ट कर इसे ‘‘पप्पू सेना’’ कहा था। इस मामले की सुनवाई 10 नवंबर को अंधेरी अदालत में होगी।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano