नवाजुद्दीन सिद्दीकी अभिनीत फिल्म ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ बोल्ड कंटेंट के चलते 48 कट लगाने की वजह से पहले ही चर्चा में है. सेंसर बोर्ड ने 48 कट के साथ ए सर्टिफिकेट देने का फैसला किया है.

इसी बीच सेंसर बोर्ड के सदस्यों द्वारा फिल्म की प्रोड्यूसर किरन श्रॉफ से उलटे-सीधे सवालों को लेकर भी सुर्ख़ियों में है. सेंसर बोर्ड की एक सदस्य ने किरन श्रॉफ से सवाल कियाकि आप एक औरत होकर इस तरह की फिल्म कैसे बना सकती हैं ?

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

किरण श्रॉफ ने आरोप लगाया कि फिल्म की स्क्रीनिंग के बाद पैनल के दो सदस्यों ने उनके साथ बदतमीजी की. और  उनसे पूछा कि तुम महिला होकर इस तरह की फिल्म कैसे बना सकती हो. तभी एक दूसरे सदस्य ने उनसे कहा कि ये तो पैंट कमीज पहने हुए हैं, महिला कैसे हो सकती हैं.

तो वहीँ फिल्म के डायरेक्टर कुषाण नंदी ने कहा कि सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने उन्हें फिल्म को बैन करने की धमकी तक दी थी. हालांकि, पहलाज निहलानी इन आरोपों को झूठा करार दिया है. अब ऐसे में बाबूमोशाय बंदूकबाज’ की टीम फिल्म ट्रिब्यूनल का दरवाजा खटखटाने जा रही है.

Loading...