Friday, December 3, 2021

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ के लिए बेटियों का जिंदा रहना जरूरी: शबाना आज़मी

- Advertisement -

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री शबाना आजमी ने कठुआ रेप केस को लेकर मोदी सरकार पार निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि सरकार की ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना के लिए बेटियों का जिंदा रहना भी जरूरी है.

अनु और शशि रंजन द्वारा आयोजित 20वें बेटी एफएलओ ग्रेट अवार्ड्स-2018 में अभिनेता जितेंद्र, अमित साध, अभिनेत्री भूमि पेडनेकर, हुमा कुरैशी, गायक अनूप जलोटा और अमृता फडणवीस की मौजूदगी में शबाना ने ये बात कही.

शबाना ने कहा, “हमारा देश एक ही समय में कई सदियों में रह रहा है. हम 18वीं, 19वीं, 20वीं और 21वीं सदी में एक ही समय में रह रहे हैं और इसका अनुभव हम देश में महिलाओं के साथ हो रहे व्यवहार में कर रहे हैं.”

asifa

बॉलीवुड अभिनेत्री ने कहा, “हमारी महिलाओं ने अपने संबंधित करियर में बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं और कई जगहों पर अगुवाई की है, लेकिन दूसरी ओर हम ऐसी खबरें पढ़ते और देखते हैं, जिसे बयान करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं है. हम सबको एकजुट होना चाहिए और सुनिश्चित करना चाहिए कि इस तरह की घटनाएं नहीं हों.”

उन्होंने कहा, “हम हमेशा कहते हैं ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ और हमें इस बारे में काम करना चाहिए, लेकिन इसके लिए, सबसे पहले हमारी बेटियों का जिंदा रहना जरूरी है.”

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles