salma

सलमान खान के खिलाफ अलग-अलग अदालत में चल रहे छह मामलों में देश की सर्व्वोच अदालत ने रोक लगा दी है. सभी मामलों की सुनवाई अब एक साथ सुप्रीम कोर्ट में सुनी जाएगी.

बता दें कि फिल्म टाइगर ज़िंदा है के प्रमोशन के दौरान वाल्मीकि समुदाय के ख़िलाफ़ की गई टिपण्णी को लेकर देश के विभिन्न हिस्सों में सलमान के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी.

सलमान खान पर आरोप है कि उन्होंने फिल्म एक था टाइगर के प्रचार के समय वाल्मीकि समुदाय के प्रति आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया. इस मामले में सलमान खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो या नहीं इसकी सुनवाई 23 जुलाई को निर्धारित की गई है.

सलमान खान द्वारा वाल्मिकी समुदाय को लेकर अपमानजनक टिप्पणी मामले में कमल वाल्मीकि ने भारतीय दंड संहिता की धारा धारा 153A, 499 और 500 के तहत आरोप लगाते हुए केस दर्ज करवाया था.

इससे पहले सलमान खान के खिलाफ चूरू जिले के कोतवाली थाने और उदयपुर जिले के भूपालपुरा थाने में भी वाल्मीकि समाज की ओर से शिकायत दर्ज करवाई गई थी. चूरू में अशोक पंवार ने समाज के लोगों के साथ कोतवाली थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज करवाई थी. जिसमें बताया गया था कि सलमान ने जिस तरह के शब्दों का प्रयोग किया गया है उससे समाज की भावना आहत हुई हैं.

सोमवार को मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अगुवाई वाली बेंच ने सलमान खान के वकील एन एम कौल के द्वारा की गई बहस को सुनते हुए अन्य राज्यों में भी दर्ज मामलों की जानकारियां मंगाई है और तब तक के लिए मामले की सुनवाई पर स्टे लगा दिया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?