बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर अपने विवादित बयानों के चलते हमेशा सुर्खियों में रहते हैं. आए दिन वह किसी न किसी को कुछ न कुछ सुनाते रहते है. अब उनके निशाने पर यंग एक्टर्स आ गए है.

एक्टर बनने के लिए यंग जनरेशन द्वारा जिम ज्वाइन करने को लेकर उन्होंने निराशा जाहिर की है. उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान इस बात से पर  हैरान जताते हुए कहा कि यंग जनरेशन एक्टर बनने के लिए जिम ज्वाइन करने पर ज्यादा फोकस कर रही है.

उन्होंने पीटीआई को कहा- ‘मैं देख रहा हूं कि एक्टर बनने के लिए लोग कहते हैं कि उन्हें जिम ज्वाइन करना है. जिम क्यों ज्वाइन करना है? आप ऐसा इंस्टीट्यूट क्यों नहीं ज्वाइन करते, जहां एक्टिंग सीखाई जाती है. आपको अच्छे डायरेक्टर के साथ काम करना चाहिए. आपको ऐसी फिल्म में काम करना चाहिए, जिसमें अच्छे एक्टर्स हों. इससे आप उन्हें देखकर बहुत कुछ सीख पाएंगे.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने अपने बेटे रणबीर का उदाहरण दिया, जिन्होंने डेब्यू से पहले संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘ब्लैक’ में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम किया था. ऋषि ने कहा- ‘एक्टर के लिए निरीक्षण करना बहुत जरूरी है. आप देखें और उसे अपने दिमाग में बैठा लें. मुझे नहीं पता कि सब जिम जाने, घुड़सवारी सीखने को एक्टर बनने का स्टेप क्यों मान रहे हैं. ‘

उन्होंने आगे कहा- ’80 के दशक में बच्चन को एंग्री यंग मैन का टाइटल मिला था. उस समय उनके पास न तो बॉडी थी, न ही मसल्स. इसके बावजूद वो हिंदी सिनेमा के सबसे बड़े स्टार बने. मेरी एक्टिंग में भी कोई तकनीक नहीं है. मैं नैचुरल एक्टर हूं.’

बता दें कि  ऋषि कपूर इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म ‘102 नॉट आउट’ के प्रमोशन में बिजी हैं. इस फिल्म में वह अमिताभ बच्चन के बेटे भूमिका में नजर आने वाले हैं.

Loading...