Farhan Akhtar will perform in the city for the first time father

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की मासूम असीफा के साथ सामूहिक बलात्कार और हत्या ने पुरे देश को झंकझोर कर रख दिया है. वहीँ कुछ लोग इस हैवानियत को भी धर्म के सांचे में डाल जायज बताने की कोशिश कर रहे है.

इसी को लेकर बॉलीवुड अभिनेता फरहान अख्तर ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए 8 वर्षीय आसिफा के लिए न्याय की मांग की है. बता दें कि गांव के एक मंदिर में आठ साल की बच्ची के साथ बारी-बारी से छह लोगों ने रेप किया था

उन्होंने ट्वीट कर कहा, “कल्पना कीजिए उस 8 साल की बच्ची के दिमाग में क्या चल रहा होगा, जिसे नशे की हालत में, बंधी बनाकर, कई दिनों तक बलात्कार और फिर हत्या कर दी गई हो. यदि आप उसे आतंक नहीं मानते हैं, तो आप इंसान नहीं हैं. यदि आप आसिफा के लिए न्याय की मांग नहीं करते हैं, तो आप कुछ भी नहीं हैं.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

चार्जशीट के अनुसार, पिता मोहम्मद यूसुफ ने 12 जनवरी को हीरानगर थाने में बच्ची के गुम होने की शिकायत दर्ज कराई थी. जिसमे कहा गया था कि बच्ची दस जनवरी को जानवरों के लिए घास लाने नजदीक के जंगल गई थी. लेकिन वापस नहीं लोटी.

चार्जशीट के मुताबिक, मुख्य आरोपी संजी राम के भतीजे ने बच्ची का अपहरण किया था. साथ ही उसने और उसके दोस्त मन्नू ने उसके साथ बलात्कार किया था. जिसके बाद बच्ची को मंदिर में ले जाकर बंधक बनाकर रखा गया.

इसके बाद 11 जनवरी को आरोपी विसाल जंगोत्रा ने भी उसके साथ रेप किया. इसके बाद बच्ची की जांच में शामिल विशेष पुलिस अधिकारी खजूरिया ने भी उसके साथ बलात्कार किया. और फिर गला घोंटकर और सिर पर पत्थर से प्रहार कर उसकी हत्या कर दी. फिर 15 जनवरी को शव को जंगल में फेंक दिया.

Loading...