arbaaz 4

फिल्म निर्माता और बॉलीवुड स्टार सलमान खान के भाई अरबाज खान ने आईपीएल में सट्टे लगाने की बात को कबूल कर लिया है. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, अरबाज खान ने माना है कि उन्होंने पिछले साल आईपीएल के मैचों में सट्टा लगाया था और 2.75 करोड़ रुपये हारे थे.

बता दें कि आईपीएल सट्टेबाजी में नाम आने और समन मिलने के बाद अरबाज खान पूछताछ के लिए शनिवार को ठाणे के क्राइम ब्रांच ऑफिस में पहुंचे थे. इस दौरान अरबाज ने ये भी बताया है कि वह पिछले 6 सालों से सट्टेबाजी में हैं.

जानकारी के मुताबिक, आईपीएल 2018 में पूरे सीजन में बुकी सोनू जालान ने 500 करोड़ कमाए थे और फाइनल मैैच में उसने 10 करोड़ रुपये कमाए. वहीँ अरबाज मैचों के दौरान 2.8 करोड़ रुपये हार गए थे. जिसके बाद वे बुकी सोनू को पैसा  देने में आनाकानी कर रहे थे. उन्हें सोनू की तरफ से धमकियां भी मिली थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस बारे में अरबाज ने कहा, ”सोनू हमारी फिल्मी पार्टी में आता था. फिल्म की सफलता के बारे में वो जानता था. जान-पहचान अच्छी थी. उसे पैसे डूबने का खतरा नहीं था. हालांकि, इस मामले में अरबाज खान पर कोई केस दर्ज नहीं किया गया है और न ही वह आरोपी हैं.

अरबाज खान के बाद अब ठाणे पुलिस विंदू दारा सिंह को भी समन भेज सकती है. सोनू ने पूछताछ में बताया है कि विंदू दारा सिंह भी उनसे दो बार मिल चुके हैं. विंदू को सोनू से प्रेम तनेजा ने मिलवाया था. प्रेम तनेजा भी बुकी है, जिसे आईपीएल फिक्सिंग सट्टेबाजी के आरोप में मुंबई क्राइम ब्रांच ने विंदू दारा सिंह के साथ गिरफ्तार किया था.

विंदू दारा सिंह चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक और पूर्व बीसीसीआई चीफ एन. श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन के साथ मिलकर सट्टेबाजी की थी. विंदू और मयप्पन को भी सट्टेबाजी में काफी पैसा गंवाना पड़ा था.

Loading...