जम्मू के कठुआ के रासना गाँव में 8 साल की बच्ची के साथ मंदिर में की गई दरिंदगी को लेकर तमाम सेलेब्रिटीज विरोध जता चुके हैं. इस मामले में अब महानायक अमिताभ बच्चन की प्रतिक्रिया आई है.

अपनी आने वाली फ‍िल्‍म ‘102 नॉट आउट’ के एक गाने के लॉन्‍च के मौके पर उन्होंने कहा कि इस बारे में बात करने में भी उन्हें घिन आती है. बता दें कि ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ के ब्रांड एंबेसडर है.

अमिताभ ने कहा, ”इस मुद्दे पर बात करना भी घृणास्पद लगता है. इस मुद्दे को मत उठाइए. इस बारे में बात करने में भी भयावह महसूस होता है.” इस दौरान उनके साथ को-एक्टर ऋषि कपूर भी मंच पर मौजूद थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल, 75 वर्ष के अभ‍िनेता से पूछा गया था कि जिस तरह देश में रेप की घटनाएं हो रही हैं, उस पर ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ के ऐंबैसड के तौर पर आपके क्या व‍िचार हैं.

गौरतलब है कि जनवरी में हुई इस घटना में पहले आरोपियों ने बच्ची को एक सप्ताह के लिए बंदी बनाया था. इस दौरान उसके साथ कई बार रेप किया गया. चार्जशीट में कहा गया है कि बच्ची के साथ रेप के बाद आरोपियों ने उसे पत्थर से कुचला ताकि वह यह सुनिश्चित कर सकें कि बच्ची की मौत हो चुकी है.

Loading...