फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान को लेकर महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) के विरोध की वजह से माफी मांगने वाले वीडियो जारी करने को लेकर अब करन जौहर को बुरा महसूस हो रहा हैं. इस वीडियो में उन्होंने पाकिस्तानी कलाकार के साथ काम करने को लेकर मांफी मांगी थी.

करण ने एक इंटरव्यू में कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा था कि मेरे सिर पर कोई बंदूक ताने खड़ा हो. करण ने कहा- ‘ऐ दिल है मुश्किल के समय मैं विचारधारा और परिस्थिति के बीच फंस गया था. इस बारे में मेरे अपने विचार और धारणाएं थीं, लेकिन स्टूडियो, कलाकारों और फिल्म की टीम के प्रति मैं जवाबदेह हूं, इसलिए मुझे बयान देना पड़ा, जिसके बारे में मैं बुरा महसूस करता हूं.’

करण ने बताया कि उन्हें कैमरे के सामने बैठकर अपनी राष्ट्रीयता और देशभक्ति के बारे में बोलना तकलीफदेह लगा. उन्होंने कहा कि वह पिछले दो दशकों से फिल्म उद्योग का हिस्सा हैं और जब उन्हें माफी का वीडियो बनाने की सलाह दी गई तो उन्हें पीड़ा महसूस हुई. उस वक्त वह फूट-फूट कर रोना चाहता था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब है कि उड़ी हमले के बाद मनसे ने  ‘ऐ दिल है मुश्किल’ का विरोध किया था. साथ ही रिलीज नहीं होने देने की धमकी दी थी, हालांकि करण द्वारा माफी मांगने का वीडियो जारी किए जाने के बाद मनसे ने अपना विरोध वापस ले लिया.

Loading...