हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी इन्डियन प्रीमियर लीग 2017 की नीलामी में कुछ दिलचस्प और प्रेरणादायी चीजें देखने को मिली. इस बार आईपीएल की नीलामी में तमिलनाडु और तेलंगाना के दो नौजवान खिलाड़ियों की किस्मत ही बदल गई. तमिलनाडु के नटराजन और तेलंगाना के सिराज दोनों की बोली दो करोड़ रुपए से ज्यादा की लगी है.

तमिलनाडु के सलेम ज़िले से 40 किलोमीटर की दूरी पर थंगारासु नटराजन का गांव है. उनके पिता एक पावरलूम यूनिट में दिहाड़ी मजदूर हैं और उनकी मां एक चिकन शॉप में काम करती हैं. वहीँ तेलंगाना के मोहम्मद सिराज के अब्बू ऑटोरिक्शा चलाते हैं. सिराज की मां साल भर पहले तक दूसरे घरों का काम करती थीं.

आईपीएल में लगी इस बोली से सिराज के पिता मोहम्‍मद गौस और मां शबाना बेगम बेहद खुश हैं. करार से मिलने वाली राशि से सिराज अपने पिता और मां के लिए हैदराबाद के पॉश इलाके में एक घर खरीदना चाहते हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सिराज ने हैदराबाद से कहा, ‘ मुझे याद है कि क्रिकेट खेलते हुए मैंने जो पहली कमाई की थी। यह क्लब का मैच था और मेरे मामा टीम के कप्तान थे. मैंने 25 ओवर के मैच में 20 रन देकर नौ विकेट हासिल हुए. मेरे प्रदर्शन से मामा इतने खुश हुए कि उन्होंने मुझे इनाम के रूप में 500 रुपये दिए. यह बेहतरीन अहसास था. लेकिन आईपीएल में जब मेरी बोली 2.6 करोड़ रुपये तक पहुंची तो मैं सन्न रह गया.’

उन्होंने कहा, ‘मेरे वालिद साब (पिता) ने बहुत मेहनत की है. वह ऑटो चलाते थे लेकिन उन्होंने कभी भी परिवार की आर्थिक स्थिति का मेरे और मेरे बड़े भाई पर असर नहीं पड़ने दिया. गेंदबाजी की एक स्पाइक की कीमत बहुत होती है और वह मेरे लिए सबसे अच्छी स्पाइक लाते. मैं अच्छे से इलाके में उनके लिये एक घर खरीदना चाहता हूं.’सिराज दाएं हाथ से तेज गेंदबाजी और बल्‍लेबाजी करते हैं. 10 टी20 मैचों में 16 विकेट उनके नाम पर दर्ज हैं.

वहीँ नटराजन ने कहा, मैं नहीं जानता. मैंने कभी इसकी उम्मीद नहीं की थी. मैं बहुत खुश हूं. मेरे मां-बाप भी बहुत खुश हैं, लेकिन उन्हें इस खेल के बारे में कुछ भी नहीं पता है. नटराजन की शुरुआत गली-मोहल्ले के क्रिकेट से हुई थी. वे जब भी अपनी टीम को जीत दिलाते, उन्हें इनाम के तौर पर हर बार कुछ रुपए मिलते.

Loading...