नई दिल्ली: भारत की मेजबानी में आयोजित आईएसएसएफ निशानेबाजी वर्ल्ड कप के पहले दिन महिला निशानेबाज अपूर्वी चंदेला ने शानदार प्रदर्शन करते हुए नए विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। बता दें कि अपूर्वी देश की पहली ऐसी महिला खिलाड़ी हैं, जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की।

गौरतलब है कि दिल्ली में हो रही इस प्रतियोगिता में 60 देशों के करीब 500 निशानेबाजों ने हिस्सा ले रहे हैं। इनमें बाजी मारते हुए अपूर्वी पहले फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनीं। इसके बाद उन्होंने सोने का तमगा अपने नाम लिखवाकर इतिहास रच दिया।

Loading...

अपूर्वी आठ महिलाओं के फाइनल में रजत पदकधारी निशानेबाज से 1.1 अंक आगे रहीं, जिससे उनके दबदबे का अंदाजा लगाया जा सकता है। पिछली विश्व विश्व चैम्पियनशिप में टोक्यो ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली अपूर्वी क्वालिफिकेशन में 629.3 अंक से चौथे स्थान पर थीं।

अपूर्वी ने इससे पहले 2015 में चांगवोन में हुए आईएसएसएफ वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल जीता था। 2014 में ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड और 2018 के गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। 2018 के जर्काता एशियन गेम्स में उन्होंने रवि कुमार के साथ मिलकर मिक्स्ड टीम इवेंट में 10 मीटर एयर राइफल में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें