anubh

फिल्म ‘मुल्क’ के निर्देशक अनुभव सिन्हा ने कहा कि देश संकट में है तो मंदिर बना देना चाहिए। हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई धर्मों के लोग वहां दर्शन करने या देखने जाएंगे।

शुक्रवार को एएमयू पहुंचे सिन्हा ने कहा, मंदिर बनाने के लिए जो करना चाहिए वो किया जाए। उन्होने कहा कि अयोध्या में मंदिर कैसे बनना है, यह मैं नहीं जानता। यह सरकार का काम है। वह संसद में अध्यादेश ला सकती है। अपने समीप बैठे पुराने दोस्त सैयद हुसैन वहदी, हैदर अली खान आदि की ओर इशारा करते हुए कहा कि हम सब भाई लोग मंदिर बनने के बाद दर्शन करने जाएंगे। मेरा जन्म अयोध्या के पास हुआ है लेकिन कभी गया नहीं। मैं चाहता हूं कि जल्दी से जल्दी मंदिर बने और मैं दर्शन करने जाऊं। जैसी परिकल्पना हो रही है, उस हिसाब से बहुत खूबसूरत मंदिर बनेगा। भक्त लोग दर्शन करने एवं बाकी लोग पर्यटन की दृष्टि से उसे देखने जाएंगे।

इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयाग करने के सवाल पर उन्होने कहा, इलाहाबाद का नाम बदलने की बजाय सरकार को प्रयागराज नाम से नया शहर बना देना चाहिए। वैसे भी सरकार 100 नए शहर बना रही है। 99 ही बनाने पड़ते।  उन्होंने कहा कि नाम में कुछ नहीं रखा है। जब वह मुंबई गए तो उसका नाम बंबई था और आज भी वह बंबई ही कहते हैं। सिर्फ पता लिखने वक्त मुंबई लिखते हैं। मद्रास का नाम चेन्नई हो गया लेकिन लोग आज भी मद्रास ही कहते हैं। फिल्म मुल्क के बारे में पूछे जाने पर कहा कि बहुत अच्छा रिस्पांस आ रहा है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

amuu

एएमयू ओल्ड ब्वॉयज और यूनियन हॉल में आयोजत स्वागत समारोह में अभिनव सिन्हा जिन्ना की तस्वीर को लेकर एएमयू में हुए हंगामे की ओर इशारा करते हुए कहा कि मैं इस पर नजर रखे हुए था। मैं इसी चिंता में रहता था कि छात्रों से कोई गलती न हो जाए। आप कामयाब रहे, सभी को मुबारकबाद।

फिल्म मुल्क के बारे में पूछे जाने पर कहा कि बहुत अच्छा रिस्पांस आ रहा है। पिछले छह महीने में जितना प्यार मुझे मिला, उतना पूरे जीवन में नहीं मिला था। शुरू में लोगों ने नफरत जरूर की लेकिन बाद में अपार प्यार मिलने लगा। उन्होंने फिर यह बात स्वीकार की कि एएमयू में नहीं आता तो फिल्म मुल्क नहीं बना पाता। उनका अपना कैरेक्टर बनारस एवं अलीगढ़ से बना है। फिल्म में अलीगढ़ की बहुत सारी चीजें हैं।

सिन्हा ने कहा, इन दिनों वह नई फिल्म पर काम कर रहे हैं। मुल्क की तरह इसकी शूटिंग भी लखनऊ में हो रही है। एक सवाल के जवाब में कहा कि मुल्क को लेकर शुरुआत में लोगों की नाराजगी दिखी, लेकिन बाद में सभी को फिल्म अच्छी लगी।

Loading...