मुंबई । फ़िल्म जगत में मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से प्रसिद्ध अभिनेता आमिर खान ने एक बड़ा फ़ैसला लिया है। उन्होंने #MeToo अभियान के तहत चल रही मुहिम को अपना समर्थन देते हुए, यौन शोषण के आरोपी एक निर्देशक की फ़िल्म को छोड़ने का फ़ैसला किया है। हालाँकि उक्त निर्देशक ने आमिर के फ़ैसले पर सवाल उठाया है।

बुधवार को आमिर खान और उनकी पत्नी किरण राव ने ट्विटर पर एक साझा बयान जारी किया। इस बयान में उन्होंने बताया की वह निर्देशक सुभाष कपूर की फ़िल्म ‘मुग़ल’ को छोड़ रहे है। उन्होंने लिखा की क्रिएटिव लोग होने की वजह से हम सामाजिक मुद्दों के समाधान निकालने के लिए प्रतिबद्ध हैं, और आमिर खान प्रोडक्शन हमेशा से यौन शोषण के प्रति जीरो टॉलरेंस पॉलिसी को अपनाता आया है।

इस साझा बयान में आमिर लिखते है,’ हम यौन उत्पीड़न के किसी भी मामले की निंदा करते हैं। इसके साथ ही ऐसे मामलों में झूठे आरोपों की भी बराबर निंदा करते हैं। दो हफ्ते पहले, जब #MeToo के तहत कई मामले सामने आने लगे तो हमारे ध्यान में आया कि जिस व्यक्ति के साथ हम काम शुरू करने वाले हैं उस पर यौन दुर्व्यवहार का आरोप लगाया जा चुका है।’

आमिर ने आगे लिखा,’ पूछताछ पर हमने पाया कि यह मामला अदालत में अब भी कानूनी प्रक्रिया में है। हम न तो जांच एजेंसी हैं और न ही हम किसी भी व्यक्ति पर निर्णय लेने के लिए किसी भी स्थिति में हैं। यह काम पुलिस और न्यायपालिका का है। इसलिए, इस मामले में शामिल किसी भी व्यक्ति पर किसी भी तरह का असर डाले बिना, और इन आरोपों के बारे में किसी भी निष्कर्ष पर आए बिना, हमने इस फिल्म से दूरी बनाने का फैसला किया है।’

आमिर ने #MeToo को समर्थन देते हुए लिखा,’ बहुत लंबे समय से महिलाओं को यौन शोषण का सामना करना पड़ा है। अब इसे रोका जाना चाहिए। हम चाहते हैं कि फिल्म इंडस्ट्री को सुरक्षित बनाया जाए। इसके लिए हम कुछ भी करने को तैयार हैं।’ आमिर के इस फ़ैसले पर नाख़ुशी जताते हुए सुभाष कपूर ने भी ट्वीटर पर जवाब दिया। उन्होंने आमिर के इस फ़ैसले की तुलना खाप पंचायत की मानसिकता से की।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें