देश भर में अल्पसंख्यक मुस्लिम और दलित समुदाय को बड़े पैमाने पर भेदभाव का सामना करना पड़ रहा हैं. ये बात किसी से नहीं छुपी हैं. लेकिन अब अभिनेताओं को भी इस भेदभाव से गुजरना पड़ रहा हैं. मशहूर टीवी शो ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ के टीवी एक्टर एजाज खान के साथ मुस्लिम होने की वजह से भेदभाव किया जा रहा हैं.

दरअसल, एजाज मुंबई के बांद्रा में घर चाहते हैं लेकिन उनकी तमाम कोशिशों के बावजूद भी उन्हें घर नहीं मिल पाया हैं. इसकी वजह जब सामने आई तो एक कडवा सच सामने आया. एजाज ने बताया कि उन्हें मुस्लिम होने के कारण घर नहीं दिया जा रहा.

एजाज ने बताया, “मैं अपना ये पुराना घर छोड़ना चाहता हूं. क्योंकि ये मुझे मेरी एक्स गर्लफ्रेंड नेटली दि लुकसिओ की याद दिलाता है. यहां हम साथ रहते थे. अब मुझे ये घर अच्छा नहीं लगता है. साथ ही मेरे कुत्तों को आर्थराइटिस है ऐसे में उनको भी बार बार 3 मंजिल चढ़कर आने जाने में मुश्किल होती है और मकान मालिक भी अब इस अपार्टमेंट को बेचना चाहते हैं. मैंने अब तक बांद्रा के हर कोने में जाकर घर सर्च कर लिया है. हिन्दू और क्रिश्चन लोगों ने मुझे इसलिए घर देने के मना कर दिया क्योंकि मैं मुस्लिम हूं. तो वहीं कुछ लोगों में मुझे इसलिए घर नहीं दिया क्योंकि मेरे पास दो कुत्ते हैं.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एजाज आगे बताते हैं, “ऐसा कोई ब्रोकर नहीं है जिसे मैंने अप्रोच नहीं किया हो. हर ब्रोकर ने मुझे कम्युनिटी, तो कभी कुत्ते की परेशानी बताकर ना कह दिया. मैं इससे थक गया हूं. मैं बांद्रा नहीं छोड़ना चाहता क्योंकि मेरा यहां सोशल सर्कल है. मैंने यहां तक कि ये भी कहा कि मैं अपने घर में कोई पार्टीज या शोर शराबा नहीं करूंगा. बल्कि मैंने तो अपने पुराने घर में भी 6 महीने में सिर्फ गेट टू गेदर पार्टी की थी. दुख की बात तो यह है कि हाउस ओनर फिर भी मुझसे मिलना नहीं चाहते हैं.

Loading...