Tuesday, September 28, 2021

 

 

 

बुलंदशहर बवाल पर बोले नसीरुद्दीन शाह – इंसान की कीमत से ज्‍यादा गाय की जान, बच्चों के लिए लगता है डर

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्‍तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित गौरक्षा के नाम पर हुए बवाल को लेकर बॉलीवुड के वेटरन एक्टर नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि मुझे देश के हालात पर गुस्‍सा आता है और अपने बच्‍चों के ल‍िए डर लगता है।

नसीरुद्दीन शाह ने इस इंटरव्यू में कहा- ‘हमने बुलंदशहर हिंसा में देखा कि गाय की मौत को ज्यादा अहमियत दी जाती है न कि पुलिस ऑफिसर की मौत को, मुझे अपने बच्चों के लिए बेहद डर लगता है कि अगर कही मेरे बच्चों को भीड़ ने घेर लिया और उनसे पूछा जाए कि तुम हिंदू हो या मुसलमान? मेरे बच्चों के पास इसका कोई जवाब नहीं होगा। पूरे समाज में जहर फैल चुका है।’

नसीरुद्दीन शाह ने इस इंटरव्यू में ये भी कहा कि इस जिन्न को बोतल में बंद करना मुश्किल होगा। लोगों को खुली छूट मिल गई है कानून को अपने हाथ में लेने की। लेकिन मुझे इन सभी बातों से डर नहीं लगता बल्कि गुस्सा आता है। मुझे लगता है कि हर इंसान को इन बातों से डर नहीं लगना चाहिए बल्कि गुस्सा आना चाहिए। और ये हमारा घर है कौन निकाल सकता है हमे यहां से।

https://youtu.be/Uh18VUfQJvA

‘कारवां-ए-मोहब्बत’ यूट्यूब पेज पर जारी विडियो में नसीरुद्दीन कह रहे हैं, ‘लोगों को कानून हाथ में लेने की खुली छूट दी गई है। कई इलाकों में हम देख रहे हैं कि एक पुलिस इंस्पेक्टर की मौत से ज्यादा एक गाय की मौत को अहमियत दी जा रही है। मुझे अपने औलादों के बारे में सोचकर फिक्र होती है क्योंकि मैंने अपने बच्चों को मजहब की तालीम बिल्कुल नहीं दी है। हमने उन्हें अच्छाई और बुराई के बारे में सिखाया है और मेरा मानना है कि अच्छाई और बुराई का मजहब से कोई लेना-देना नहीं है।’

17 दिसंबर को पोस्ट किए गए इस विडियो में नसीरुद्दीन आगे कहते हैं, ‘कल मेरे बच्चों को भीड़ ने घेर लिया और उनसे पूछा कि तुम हिन्दू हो या मुस्लिम तो उनके पास कोई जवाब नहीं होगा। मुझे इस बात की फिक्र होती है कि हालात जल्दी सुधरते तो मुझे नजर नहीं आ रहे हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles