property

नयी-नयी संपत्ति खरीदने वाले सभी लोगों में एक बात सामान्य होती है, सभी लोग नयी प्रॉपर्टी को खरीदने के लिए उत्सुक रहते हैं. नयी प्रॉपर्टी को खरीदने के लिए सभी के मन में उत्सुकता बनी रहती है, उत्सुकता के साथ-साथ सभी लोगों में घबराहट भी होती है. कभी-कभी हम देखते हैं की कई लोग नयी प्रॉपर्टी खरीदने के बाद भी क़ानूनी समस्याओं का सामना करते हैं और दिन-भर कोर्ट,कचहरी के चक्कर लगाते हैं. इसलिए नयी प्रॉपर्टी खरीदने में पेपर वर्क अत्यंत महत्वपूर्ण होता है. भविष्य में किसी भी प्रकार की कोई क़ानूनी समस्या का सामना ना करना पड़े तो तो इसलिए प्रॉपर्टी डोक्युमेन्ट्स किसी भी नए खरीददार के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होते हैं. भारत में संपत्ति खरीदने से पहले आपको यह क़ानूनी डोक्युमेन्ट्स जरुर देखने चाहिए. 

टाइटल डोक्युमेन्ट्स

टाइटल डोक्युमेन्ट्स के लिए आप पहले विक्रेता से ओरिजिनल डोक्युमेन्ट्स मांगोगे और फिर यह अपने वकील द्वारा चैक करवाओगे. हाँ ध्यान रखा जाए की यह आप किसी अन्य व्यक्ति तक पहुँचने ना दें. इस पर सिर्फ विक्रेता का नाम होना चाहिए .इस पर विक्रेता के अलावा किसी अन्य व्यक्ति का नाम नहीं लिखा जाना चाहिए.

खाता सर्टिफिकेट

यह संपत्ति खरीददार का खाता होता है, इसमें खाता प्रमाणपत्र होता है. एक नई संपत्ति के रजिस्ट्रेशन और ट्रांसफर के लिए खाता प्रमाणपत्र आवश्यक होता है. संपत्ति खरीदने और बिज़नस लाइसेंस प्राप्त करने के लिए इसकी आवश्यकता है.

एंकमब्रान्स सर्टिफिकेट

रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी ऑफिस से एनकम्ब्रेंस प्रमाण पत्र के लिए पूछें और यह सुनिश्चित करें की कोई क़ानूनी देनदारियां तो नहीं है, इसमें संपत्ति पर किसी भी क़ानूनी लेनदेन का विवरण नहीं होना चाहिए.

सर्वे स्केच

सर्वे डिपार्टमेंट से जमीन के सर्वेक्षण स्केच को जाने और जाँचिये की विक्रेता द्वारा दी गयी सम्पति का माप सटीक है या नहीं, सर्वे स्केच इसलिए जरुरी है.

रिलीज़ सर्टिफिकेट

अगर कभी , विक्रेता ने लोन के लिए जमीन का वचन दिया है तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि पुनर्भुगतान पूरा हो गया है. भुगतान की रसीद प्राप्त करें और बैंक से रिलीज प्रमाणपत्र प्राप्त कर ले.

कर रसीदें

अगर सरकार द्वारा सभी संपत्ति करों का भुगतान किया गया है तो सरकार और नगरपालिका कार्यालयों में पूछताछ करें. विक्रेता को भुगतान संपत्ति की कर रसीदों के लिए भी पूछें.

बिक्रीनामा

बिक्रीनामा यह सुनिश्चित करने के लिए होता है कि नियम और शर्तें स्वीकार्य हैं या नहीं. बिक्रिनामे की वकील की मदद से पूरी तरह से जांच की जानी चाहिए.

पूरा प्रमाणपत्र (एक निर्मित संपत्ति के लिए)

नगर निगम के अधिकारियों द्वारा एक पूर्ण प्रमाण पत्र जारी किया जाना चाहिए जिसमे कहा गया है कि इमारत ऊंचाई,या दुरी में उनके नियमों के अनुसार है और अनुमोदित योजनाओं के अनुसार बनाई गई है, संपत्ति खरीदने और होम लोन के समय यह एक महत्वपूर्ण डोक्युमेन्ट्स होता है.

मदर डीड 

यह एक बहुत ही आवश्यक डोक्युमेन्ट्स है, जो की शुरुआत से संपत्ति के स्वामित्व का पता लगाता है. स्वामित्व के अनुक्रम में अगर कुछ इनफार्मेशन गायब हो गयी हैं तो पंजीकरण कार्यालय में एक बार जरुरु देखें.

पॉवर ऑफ़ अटॉर्नी

यह डोक्युमेन्ट्स तब जरुरी है जब कोई विक्रेता किसी अन्य व्यक्ति को अपनी जगह अधिकार देता है या अन्य व्यक्ति को अपने अधिकारों पर स्थानांतरित करता है.

उपर लिखे गए डोक्युमेन्ट्स के अलावा आपको अन्य विशिष्ट कागजी कार्रवाई पर विचार करने की ज़रूरत हो सकती है. उदाहरण के लिए स्थानीय प्राधिकरणों से प्रमाणपत्र या रिकॉर्ड.

संपत्ति खरीदते समय, बिक्री से संबंधित दस्तावेजों को सत्यापित करने और आपकी स्थिति के लिए विशिष्ट मामलों पर मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए वकील से परामर्श करना हमेशा बेहतरीन होता है. जब आप दस्तावेजों को सत्यापन और प्राप्त करने के बारे में समझदारी रखते हैं, तो एक संपत्ति का स्वामित्व परेशानी मुक्त अनुभव बन जाता है. सम्पति खरीदते समय किसी भी वकील की सलाह लेना चाहिए यह आपको क़ानूनी समस्याओं से बचाता है.

(Lawzgrid एक ऑनलाइन लॉयर मुह्ह्या कराने वाली ऐप है जिसमें कोहराम के पाठक इस ऐप द्वारा बहुत कम दाम में वकील हायर कर सकते है.)
मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?