बेहद प्यारे दिलीप मंडल, सर, जस्टिस राजेंद्र सच्चर ने मुसलमानों को आरक्षण देने की वकालत करती हुई ऐसी रिपोर्ट पेश की जिसे पढ़ कर कोई भी ईमानदार शख्स इसे लागू करवाने की हिमायत करेगा। वह सेक्यूलरीज्म का रिपोर्ट कार्ड नहीं बल्कि एक पूरी कौम को आज़ादी के बाद सरकारी नौकरियों, शैक्षणिक...
HindiNews, www hindi news, www hindi news com, hindi news com, India News, Amar hindi ujala News, aajtak, hindi dainik jagran news, hindinews todays, latest hindinews
ये आरोप बार-बार लगते रहे हैं कि केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से अल्पसंख्यकों पर हिंसक हमलों के मामले बढ़े हैं. अमरीकी संस्था युनाइटेड स्टेट्स कमीशन ऑन इंटरनेशनल रिलिजस फ्रीडम ने भी अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के...
7 जनवरी 2015 को फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका ‘शार्ली हेब्दो’ के कार्यालय में घुस कर दो नकाबपोश आतंकवादियों ने अंधाधुंध पफायरिंग करते हुए आठ पत्रकारों सहित 11 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। खुद को इस्लाम का ठेकेदार बताने वाले इन आतंकवादियों की शिकायत थी कि इस पत्रिका ने...
आरएसएस देश में इस वक्त सबसे बड़ा एनजीओ, जो विदेशी फंड से चलता है और बॉबी जिंदल अमेरिका दखल करने का ग्लोबल हिंदुत्व का दांव। हजारों की तादाद में एऩजीओ के लाइसेंस कैंसिल किये जा रहे हैं। किन गैर सरकारी संगठनों के लाइसेंस रद्द किये जा रहे हैं, क्या वजहें...
कोहराम न्यूज़ नेटवर्क  स्पेशल रिपोर्ट - published on 19 June 2014 Republished -  04 November 2016 कोहराम के  ज़रिये चलाई  गयी एकता की मुहीम के तहत अपने पाठकों से कोहराम के फेसबुक पेज  पूछे गए सवाल में हम ने पूछा था की देश  में  एकता स्थापित  करने के लिए क्या उपाय किये जाने चाहिए? देश...
  इरफान इंजीनियर    सन् 2014 में सांप्रदायिक हिंसा देश के उन इलाकों में भी फैल गई, जहां उसका कोई इतिहास नहीं था. हापुड़ और लोमी (उत्तरप्रदेश) जैसे छोटे शहरों व हरियाणा के गुड़गांव को सांप्रदायिक हिंसा ने अपनी चपेट में ले लिया. सहारानपुर और हैदराबाद में मुसलमानों और सिक्खों के बीच...
shivaji-and-muslims
शिवाजी, जनता में इसलिए लोकप्रिय नहीं थे क्‍योंकि वे मुस्लिम-विरोधी थे या वे ब्राह्मणों या गायों की पूजा करते थे। वे जनता के प्रिय इसलिए थे क्‍योंकि उन्‍होंने किसानों पर लगान ओर अन्‍य करों का भार कम किया था। शिवाजी के प्रशासनिक तंत्र का चेहरा मानवीय था और वह...
आमतौर पर खोजी पत्रकारिता नेताओं की कुर्सियाँ हिलाती है, लेकिन पिछले सप्ताह भारतीय समाचारपत्र, 'द इंडियन एक्सप्रेस' में एक ख़बर छपने के बाद से अब पत्रकारों की कुर्सियाँ हिल रही हैं. ख़बर के मुताबिक़ कई पत्रकार एस्सार नाम की कंपनी के ख़र्चे पर टैक्सी जैसे फ़ायदे उठाते रहे हैं. आरोप मामूली...
7 जनवरी 2015 को फ्रांस की व्यंग्य पत्रिका ‘शार्ली हेब्दो’ के कार्यालय में घुस कर दो नकाबपोश आतंकवादियों ने अंधाधुंध पफायरिंग करते हुए आठ पत्रकारों सहित 11 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। खुद को इस्लाम का ठेकेदार बताने वाले इन आतंकवादियों की शिकायत थी कि इस पत्रिका...
लखनऊ । यूपी के आगामी 2017 विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक दलों ने वोट बैंक का हिसाब किताब लगाना शुरू कर दिया है। लोकसभा चुनावों में अभूतपूर्व सफलता से जहां बीजेपी को मजबूत स्थिति में माना जा रहा है वहीं पूर्ण बहुमत से राज्य की मौजूदा सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी...

ताज़ा समाचार