Home स्पेशल रिपोर्ट

स्पेशल रिपोर्ट

मोहम्‍मद रफ़ी के बारे में बहुत कम लोगों को यह पता होगा कि रफ़ी अपने जीवन में शुरुआती दिनों में अपने पिता का हेयर सैलून संभालते थे। 1935 में उनके वालिद लाहौर आ गए थे जहां उन्‍होंने हेयर सैलून खोला था। रफ़ी जिनका उन दिनों पुकारता नाम फीको हुआ...
बात 1943 की है. जब अल्जीरिया को फ्रांस से आजादी मिली थी. इस 128 साल के गुलामी के शासन में फ्रांस ने अल्जीरिया के जवानों में इस्लामी भावना को खत्म करने के लिए हर मुमकिन कोशिश की थी. उन्ही कोशिशों में से एक ये थी कि फ्रांस ने अल्जीरिया से 10 लड़कियों चुना और उन्हें...
फिलिस्तीन एक एसी जगह है जहां यहूदी, ईसाई और इस्लाम धर्म की बहुत सी पवित्र मान्यताएं मौजूद हैं। दूसरे शब्दों में अगर फिलिस्तीन को यहूदी ईसाई और इस्लाम धर्म की मान्यताओं का पालना कहा जाये तो अनुचित न होगा। यह एक पवित्र भूमि है। फिलिस्तीन का एक नगर बैतुल...
दुनिया में कितने ही राजा, महाराजा, बादशाहों के दरबार लगे और उजड़ गए, मगर ख्वाजा साहब का दरबार आज भी शान-ओ-शोकत के साथ जगमगा रहा है। उनकी दरगाह में मत्था टेकने वालों की तादात दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है। गरीब नवाज के दर पर न कोई अमीर है...
कोहराम न्यूज़ ने कल अपने ऑनलाइन सर्वे में देश के मुस्लिम युवाओं से हज सब्सिडी को लेकर एक सवाल पूछा था जिसमे कोहराम न्यूज़ के जागरूक पाठकों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. कुछ युवाओं ने खुलकर अपनी राय रखी वहीँ कुछ लोग युवाओं का कहना था की इस तरह...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM ) पहली बार 1982 में पहली बार सीमित तौर पर इस्तेमाल की गयी थी और इस मशीन का 2004 के आम चुनावो के बाद सार्वभौमिक उपयोग किया गया ,इसके आने से कागज़ी बैलेट पेपर चुनावी चरण से बाहर कर दिए गये | इस समय भारत...
लन्दन यूनिवर्सिटी के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के एचओडी प्रोफेसर और्थेर एलिसन को शायद यह मालूम ना था की विभिन्न धर्मों का अध्यन करते करते कब इस्लाम का पनाह में आ जायेंगे. यह शायद इस्लमा में ही है जो इसे पढता है उसके दिल में उतरता चला जाता है. प्रोफेसर...
पोर्शिया | सर्दियों में बहुत से पुरुषो और महिलाओ को सौन्दर्य समस्या होती है. इस मौसम में शरीर और पर्यवारण के तापमान में अंतर होने के कारण हमारा शरीर संवेदनशील भागो के माध्यम से तापमान को सामान्य करने की कोशिश करता है. इस कारण से हमारे पैर की त्वचा सुखी...
यहाँ एक हिन्दू नौ जवान ने बताया कि उसने अपनी जान क़ुरान पढ़ कर बचायी. मामला साल 2016 का हैं, जब बांग्लादेश की राजधानी ढाका में ईद के मुबारक उत्सव से पहले होली आर्टिसन बेकरी पर पांच आतंकियों ने हमला बोल दिया था. बीबीसी न्यूज़ के अनुसार इस नौजवान इन...
कोहराम न्यूज़ के लिए विशेष इंटरव्यूसोशल मीडिया से लेकर मेन स्ट्रीम मीडिया में बहुत से ऐसे लेखक है जो शोषित, अल्पसंख्यकों, दलितों और महिलाओं के लिए आवाज़ उठा रहे हैं,  उन्हीं में से एक नाम है वसीम अकरम त्यागी. बहुत कम लोग जानते होंगे की वसीम अकरम त्यागी ने...

फेसबुक पर लाइक करें

ज़रूर पढ़ें

ताज़ा समाचार

सप्ताह की प्रमुख खबरें