Thursday, October 29, 2020
जैद पठान ये तस्वीर लेबनान की राजधानी बेरूत के एक हॉस्पिटल कि है एक नर्स अपनी गोद में तीन बच्चों को लेकर खड़ी है ये तस्वीर लेबनानी फोटोजर्नलिस्ट बिलाल ने ली जब वो धमाकों के बाद धुएं से भरी और मलबे से भरी पड़ी सड़कों से होते हुए धमाकों कि...
चैनल न्यूज़ एशिया देख रहा था। अनसोहातो देखने लगा। काफ़ी देर तक दक्षिण पूर्व एशिया के देशों में कोरोना को लेकर ख़बरें आती रहीं जाती रहीं। भारत में तो कोई सोच भी नहीं सकता। कोरोना का मसला ही ख़त्म मान लिया गया है। WHO के चीफ़ ने कहा है कि...
ravish kumar
रोज़ाना मैसेज आते हैं कि सर, हमारी परीक्षा रद्द करवा दें। कोरोना का ख़तरा है। वे जानते हैं कि मैं शिक्षा मंत्री नहीं हूं। न ही यू जी सी हूं। फिर भी लिखते हैं। छात्र सुप्रीम कोर्ट भी गए थे कि परीक्षा न हो। 10 अगस्त तक सुनवाई टल...
निजीकरण का स्कूली नाम विनिवेश है। विनिवेश बेचने जैसा ग़ैर ज़िम्मेदार शब्द नहीं है। ख़ुद को काम करने वाली सरकार कहती है कि वह 23 सरकारी कंपनियों को बेचना चाहती है ताकि उनका उत्पादन बढ़ सके। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा है कि बिकने जा रही कंपनी का...
पुराना ख़बर है। बीते मई की। यह ख़बर हमें सरकारी नौकरियों को लेकर युवाओं के दृष्टिकोण में आ रहे बदलाव को समझने का मौक़ा देती है। यह नज़रिया बदलने का वक्त है। सरकार ही बदलने की तरफ़ धकेल रही है और उसे सफलता अभी मिल रही है। जिस तरह...
सूफी शब्द ‘सुफ’ से बनता है और अरबी भाषा में इसका मतलब सुफ्फा है यानी “ दिल की सफाई” ।कुछ लोग इसे फारसी शब्द ‘सूफ’ यानि कम्बल जैसा मोटा कपडा और ‘सफ़’ से जोड़कर बताते हैं यानी क़यामत के दिन पहली सफ़ (पंक्ति) में जो नेक जन्नती लोग होंगे,...
रेलवे ने पिछली भर्ती के लोगों को ही पूरी तरह ज्वाइन नहीं कराया है। अब नई भर्तियों पर रोक लगा दी गई है। यही नहीं आउट सोर्सिंग के कारण नौकरियाँ ख़त्म की गई, अब उस आउटसोर्सिंग के स्टाफ़ भी कम किए जाएँगे। पहले रेलवे रोज़गार पैदा करती थी, अब...
मनुष्य एक सामाजिक प्राणी हैं। घर-परिवार के साथ-साथ उस पर मुआशरे की जिम्मेदारियों का भी दायित्व होता है। समाज के सभी धर्म इसकी वकालत करते हैं। इसी संदर्भ में कुरान में भी मानवीय और सामजिक गुणों को तरजीह देकर कुछ आयतें नाज़िल हुई हैं। ‘कुरआन एक झलक’ के इस...
ravish583
16 मई को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा था कि सभी राज्यों ने जो मोटा-मोटी आंकड़े दिए हैं उसके आधार पर हमें लगता है कि 8 करोड़ प्रवासी मज़दूर हैं जिन्हें मुफ्त में अनाज देने की योजना का लाभ पहुंचेगा। केंद्र सरकार इसका ख़र्च उठाएगा। राज्यों से पैसे...
ravish kumar
अमरीका में 36,000 पत्रकारों की नौकरी चली गई है या बिना सैलरी के छुट्टी पर भेज दिए गए हैं या सैलरी कम हो गई है। कोविड-19 के कारण। इसके जवाब में प्रेस फ्रीडम डिफेंस फंड बनाया जा रहा है ताकि ऐसे पत्रकारों की मदद की जा सके। यह फंड...