Thursday, July 16, 2020
मूर्ख दिवस (एक अप्रैल) से शुरू होने वाले साल के 12 महीनों के लिए केंद्र सरकार का बजट जल्द पेश होने वाला है. यह वित्त मंत्री अरुण जेटली का तीसरा बजट है. इसके बाद 2019 के आम चुनाव के पहले अंतरिम बजट से पहले वह दो बजट और पेश करेंगे....
रवीश कुमार अर्थव्यवस्था में गिरावट किसी के लिए अच्छी ख़बर नहीं है। इसका नुकसान सभी को उठाना पड़ता है। कस्बा और फेसबुक पेज @RavishKaPage पर यहां वहां से जुटा कर आर्थिक ख़बरों को पेश करता रहता हूं। ट्रोल को इससे तकलीफ होती है क्योंकि हिन्दू-मुस्लिम प्रोपेगैंडा में छेद हो जाता...
अमरीका का श्रम विभाग है। वह बताता है कि इस हफ्ते कितने लोगों को नौकरी मिली है। कितने लोग बेरोज़गार हुए हैं। 10 हफ्तों में अमरीका में 4 करोड़ लोग बेरोज़गार हो चुके हैं। इस हफ्ते के अंत में 21 लाख लोग बेरोज़गारों की संख्या में जुड़े हैं। भारत में...
kohram logo high long
उदय चे आज वाल्मीकि जयंती है। पूरे देश मे सरकार इसे धूमधाम से मना रही है। जगह-जगह सरकार कार्यक्रम कर रही है। पिछले 2-3 दिनों से वाल्मीकि जयंती की बधाइयों व कार्यक्रमो के सन्देश भी सोशल मीडिया पर अलग-अलग दलित संघठनो की तरफ से भी आ रहे थे। कार्यक्रम का...
dilip mandal
शहीद अफसर तंजील अहमद के जनाजे पर भारी भीड़ न जुटने के लिए कुछ सिरफिरे, इलाके के मुसलमानों को कोस रहे हैं. याकूब वगैरह की मिसाल दे रहे हैं. क्या राष्ट्रीय मिशन पर शहीद होने वाले के लिए एकजुटता दिखाने का दायित्व केवल मुसलमानो पर है? सिर्फ इसलिए कि तंजील...
kejriwal modi
दिल्ली का मुसलमान हर चुनाव में कांग्रेस को एकमुश्त वोट देता था लेकिन बीते विधानसभा चुनाव में उनका वोट आम आदमी पार्टी को शिफ्ट हो गया। इसके बदले में पार्टी ने मुसलमानों के सवाल पर शर्मनाक चुप्पी साधकर अपनी घटिया राजनीति उजागर कर दी है। इसे चांद बाग़ प्रकरण...
ravish kumar
कोविड-19 के कारण पिछले 24 घंटे में 83 लोगों की मौत हुई है। इससे पहले 24 घंटे में इतनी मौतें नहीं हुईं। संक्रमण से मरने वाले मरीज़ों की संख्या 1300 से अधिक हो चुकी है। क्या यह हर्ष और उल्लास का समय है कि हम आसमान से पुष्प वर्षा करें...
पंचायत चुनाव में भी ध्रुवीकरण की राजनती का सहारा लिया जा रहा है तो समझ लीजिये अच्छे दिन कभी नहीं आयेंगे। गाजियाबाद के तलहटा गांव में जिस महिला का शव कब्र से बाहर निकाल कर फेंका गया है वह बहुत कुछ सोचने पर मजबूर करता है। सीओ मोदी नगर...
हिंदी सिनेमा देश के मुस्लिम समाज को परदे पर पेश करने के मामले में कंजूस रहा है और ऐसे मौके बहुत दुर्लभ ही रहे हैं जब किसी मुसलमान को मुख्य किरदार या हीरो के तौर पर प्रस्तुत किया गया हो. “गर्म हवा”,“पाकीज़ा”,“चौदहवीं का चांद”,“मेरे हुज़ूर”,“निकाह”,“शमा”, “नसीम”, “चक दे इंडिया”, “इक़बाल”,...
सोशल मीडिया को भगवा ब्रिगेड ने हमेशा से ही झूठा प्रचार करने के लिए आधार बनाया हैं. जिसके दम पर वे हमेशा से ही प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मुसलमानों को टारगेट करते आये हैं. इस बार भगवा ब्रिगेड के निशाने पर प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हैं जिनका केंद्र की...

ज़रूर पढ़ें

ताज़ा समाचार