narendra mohan jagran 640x424
दैनिक जागरण ने कठुआ रेप केस के बारे में झूठी ख़बर यूँ ही नहीं छापी. उसने राममंदिर आंदोलन के दौर में ही तय कर लिया था कि नंबर वन बनने के लिए वह पत्रकारिता के बुनियादी उसूलों को त्याग देगा। बहुसंख्यक राजनीति और उन्माद को हर हाल में समर्थन...
dhruv gupt jagran 640x385
दैनिक समाचार पत्र दैनिक जागरण ने कठुआ रेप को लेकर जो रिपोर्ट प्रकाशित की है. उसको फर्जी करार देते हुए पूर्व आईपीएस अधिकारी ध्रुव गुप्त ने कहा कि यह एक पत्रकारिता के निष्पक्षता के नियमों को ताक पर रख राजनीतिक अजेंडे के तहत प्रकाशित की गई है. उन्होंने कहा कि जम्मू के कठुआ...
mahabharat v.n rai 640x424
उन्नाव और कठुआ के जघन्य बलात्कार, हस्तिनापुर राज दरबार के द्रोपदी चीरहरण प्रसंग से समझने होंगे. यानी राजनीतिक परिप्रेक्ष्य में. महाभारत काल में द्रोपदी, जिन पारंपरिक सत्ता आयामों के निशाने पर रही उनके आतंक को उन्नाव ने और भय को कठुआ ने साक्षात कर दिया है. इस कटु आयाम पर सुर्ख़ियों में चर्चा होनी...
लखनऊ – रिहाई मंच ने मक्का मस्जिद विस्फोट के मामले में एनआईए कोर्ट से  असीमानंद समेत अन्य आरोपियों के बरी होने किये जाने पर टिप्पणी करते हुए कहा की मक्का मस्जिद बम विस्फोट मामले में असीमानंद समेत अन्य का बरी होना साबित करता है कि भारत में आतंकवाद के नाम पर...
narendra modi with swami aseemanand
अभिषेक श्रीवास्‍तव ग्‍यारह साल पुराने हैदराबाद के मक्‍का मस्जिद धमाके में असीमानदं उर्फ़ नबकुमार सरकार उर्फ रामदास का दूसरे आरोपियों के साथ बरी होना कथित हिंदू आतंक के बाकी पुराने मामलों में लगातार बरी हो रहे आरोपियों से थोड़ा अलग मायने रखता है। असीमानंद पर सोमवार को आए फैसले के...
पिछले साल मई में रिपब्लिक चैनल पर हैदराबाद से एक स्टिंग चला था। आप यू ट्यूब पर इसकी डिबेट निकाल कर देखिए, सर फट जाएगा। स्टिंग में तीन लड़कों को ISI के लिए काम करने वाला बताया गया था । जब पुलिस ने देशद्रोह का केस दर्ज किया था...
38 बरस की बीजेपी को याद कैसे करें। जनसंघ के 10 सदस्यों से बीजेपी के 11करोड़ सदस्यों की यात्रा । या फिर दो सांसद से 282 सांसदों का हो जाना । या फिर अटल बिहारी वाजपेयी से नरेन्द्र मोदी वाया लाल कृष्ण आडवाणी की यात्रा । या फिर हिन्दी...
ख़ालिद अयूब मिस्बाही शेरानी आज की दुनिया और आज की दुनिया में भी सबसे ज़्यादा मुस्लिम दुनिया एकता का रोना रो रही है। एकता ना होने को ले कर हमारे मुअ़ाशरे का हर छोटा बड़ा तंक़ीद के दो लफ़्ज़ बोलना अपना फ़र्जे़ मंसबी समझता है। बड़ा अ़जीब अलमिया है कि अपनी...
asifaa1
केवल 8 वर्ष की मासूम कश्मीरी बेटी के साथ जिस प्रकार हैवानियत का खेल दरिंदों ने खेला है उसे सुन कर रूह तक काँप जाती है। इन बलात्कारी शैतानों का वहशीपन से दिल खून के आंसू रोने पर मजबूर है। कसूर क्या था इस छोटी सी मासूम बच्ची का...
अंबेडकर जयंती की शुभकामनाएं। आप इस जयंती को अख़बारों में छपे सरकारी विज्ञापनों से मत आंकिए। नेताओं की आपसी होड़ के कारण अंबेडकर के विज्ञापन छपते हैं। मगर कोई नेता जाति तोड़ने और इसके नाम पर होने वाले उत्पीड़न के लिए पसीना नहीं बहाता है। अगर आप अपने आस-पास...

ज़रूर पढ़ें

ताज़ा समाचार

error: Contents of Kohraam.com are copyright protected.