Saturday, November 27, 2021

मुकेश अंबानी अपनी संपत्ति के बंटवारे पर हुए सीरियस, नहीं चाहते कि भविष्य में बच्चों में हो कोई विवा’द

- Advertisement -

साल 2002 में जब धीरूभाई अंबानी का देहांत हुआ था, उसके बाद मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी के बीच संपत्ति बंटवार को लेकर विवाद शुरू हो गया था. यह विवाद सालों तक चलता रहा और आखिरकार उनकी मां आनंदीबेन ने दोनों भाइयों का बंटवारा कर दिया और स्टेकहोल्डर्स के विरोध के बावजूद बॉम्बे हाईकोर्ट ने उस बंटवारे पर मुहर लगा दी मुकेश अंबानी को वो जख्म अभी तक याद है। यही वजह है कि वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के बंटवारे को लेकर अभी से तैयारी में लग गए हैं।

NDTV की खबर के मुताबिक कयास हैं कि मुकेश अपनी संपत्ति एक हिस्सा ट्रस्ट को ट्रांसफर करेंगे। इसके पास रिलायंस इंडस्ट्रीज का मालिकाना हक होगा। ट्रस्ट में मुकेश अंबानी, पत्नी नीता अंबानी, तीनों बच्चों आकाश, अनंत और ईशा का हिस्सा होगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश उन मॉडलों पर विचार कर रहे हैं, जिनको दुनिया के दूसरे रईसों ने अपनी संपत्ति के बंटवारे के लिए तैयार किया था। मुकेश अंबानी का एम्पायर 208 बिलियन डॉलर के करीब है। वो नहीं चाहते हैं कि इतनी बड़ी दौलत के बंटवारे को लेकर उनके तीन बच्चों के बीच किसी तरह का विवाद हो। रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश को वॉलमार्ट इंक के वॉल्टन फैमिली का तरीका पसंद आया है।

ट्रस्ट के जरिए दौलत ट्रांसफर होगी
माना जा रहा है कि मुकेश अंबानी अपनी दौलत को एक ट्रस्ट को ट्रांसफर करेंगे. इस ट्रस्ट के पास रिलायंस इंडस्ट्रीज का मालिकाना हक होगा. इस ट्रस्ट में मुकेश अंबानी, पत्नी नीता अंबानी, तीन बच्चे- आकाश, अनंत और ईशा का स्टेक होगा. अंबानी के कुछ खास लोगों को ट्रस्ट का एडवाइजर नियुक्त किया जाएगा. माना जा रहा है कि बोर्ड का मैनेजमेंट बाहर के स्किल्ड प्रोफेशनल्स के हाथों में ही होगा.

1.3 ट्रिलियन डॉलर दौलत ट्रांसफर होगी
Credit Suisse Group AG की रिपोर्ट के मुताबिक एशिया की बात करें तो आने वाले एक दशक में करीब 1.3 ट्रिलियन डॉलर की दौलत फर्स्ट जेनरेशन से नेक्स्ट जेनरेशन को ट्रांसफर होगी.

नीता अंबानी अभी रिलायंस इंडस्ट्रीज के बोर्ड में शामिल हैं. इसके अलावा वह कई तरह के सामाजिक परोपकारी कामों में लगी हैं. ईशा अंबानी ने येल यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है. वहीं, अनंत अंबानी ब्राउन यूनिवर्सिटी से और आकाश अंबानी भी ब्राउन यूनिवर्सिटी से पढ़े हैं.

वॉल्टन फैमिली का बंटवारा
वॉलमार्ट की वॉल्टन फैमिली की बात करें तो सैम वॉल्टर ने अपने चार बच्चों में 20-20 फीसदी की दौलत बांट दी थी. इससे टैक्स का बोझ भी कम हुआ और बिजनेस पर फैमिली का कब्जा भी बना रहा. वॉलमार्ट में 50 फीसदी से ज्यादा हिस्सा अभी परिवार वालों के पास है.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles