Saturday, December 4, 2021

Motivational Story: दूध बेचने वाला लड़का बना बैंक का मालिक

- Advertisement -

मेहनत इतनी करो कि कामयाबी झक मारकर तुम्हारे पीछे आए। दूध बेचने वाले एक लड़के ने इस बात को सच कर दिखाया। इस लड़के ने अपने जीवन में मेहनत और संघर्ष करके दुनिया के सामने मिसाल बन कर खड़ा हो गया। एक मिठाई वाले का लड़का बन गया भारत के नामी-गिरामी बैंक का मालिक।

बंधन बैंक का नाम सब जानते हैं मगर हम बंधन बैंक के मालिक चंद्रशेखर घोष की बात कर रहे हैं। कैसे चंद्रशेखर दूध बेचकर बन गए इतने बड़े बैंक के मालिक।

चंद्रशेखर त्रिपुरा के अगरतला में जन्मे। उनके पिता एक छोटी सी मिठाई की दुकान चलाते थे चंद्रशेखर के पिता का सपना था उनका बेटा अच्छी जगह से पढ़ाई करें। मगर उनके पिता के पास उनकी अच्छी शिक्षा के लिए पर्याप्त पैसे ना होने के कारण। चंद्रशेखर ने बचपन में दूध बेचकर अपनी पढ़ाई की।

चंद्रशेखर घोष आश्रम के खाने से अपना पेट भरते थे। फिर उन्होंने बच्चों को ट्यूशन देना चालू करा। जीवन में कुछ इस तरह से संघर्ष करने के बाद चंद्रशेखर ने आज यह मुकाम हासिल किया है। इनको हर कोई सलाम करता है।

2001 में चंद्रशेखर घोष कुछ पैसों की व्यवस्था कर एक माइक्रोफाइनेंस संस्थान बैंक खोल लिया। फिर उन्होंने छोटे लेवल पर व्यापार करने वाली महिलाओं को लोन देना शुरू करा। 23 अगस्त 2015 को फाइनेंशियल सर्विसेज की शुरुआत की गई। इसके बाद इस माइक्रो संस्था बंधन बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से पूर्ण वाणिज्यिक बैंक के रूप में काम करने की अनुमति भी मिल गई।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles