ant

ant

रियाद – एक अजीबो गरीब मामला सऊदी अरब में देखने को मिला जहाँ एक सऊदी नागरिक ने दुसरे शख्स पर मात्र इसीलिए मुकदमा कर दिया क्यों की उसने पैर रखकर चींटी को मार दिया था.

आठ साल पहले एक सऊदी व्यक्ति ने किसी निवासी के ऊपर मुकदमा दायर किया था जिसमे एक शख्स ने चींटी के ऊपर पैर रखकर उसे मार दिया था. मुकदमा करने वाले व्यक्ति के अनुसार यह कार्य इस्लाम की शिक्षाओं के अनुकरणीय नहीं था. व्यक्ति के अनुसार चींटी भगवान के द्वारा बनायीं गयी जीवों मे से एक है और उसे पूरा हक है जीवित रहने का, उन्होने इस्लामी कानून नियमो को प्रतिवादी पर लागु किया. यह मुकदमा जज मुहम्मद अल फ़याज़ ने  स्वीकार किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुकदमा करने वाले व्यक्ति से बात करते करते जज मुहम्मद अल फ़याज़ ने कहा कि चींटी के प्रतिनिधि के रूप में आपका अनुरोध स्वीकार किया गया है और यह स्पष्ट है की जब आपने मामला दायर किया था तो आपके द्वारा चींटी के माता पिता से वैध वकील अनुबंध प्रदान नहीं किया गया जो की प्रतिवादी द्वारा मारा गया लेकिन तब तक मामला आगे नहीं बढ़ सकता है की जब तक सम्बंधित व्यक्ति सामने न हो या एक वेध वकील ना हो.

जज ने व्यक्ति से चींटी के माता पिता द्वारा एक वैध वकील अनुबंध लाने का अनुरोध किया और अगर वह एसा करता है तो तब वह व्यक्ति को कोर्ट में लाने को कहा जिसने चींटी को मारा .

जज का यह जवाब सुनकर वह व्यक्ति चौंक गया और  अदालत छोड़ने के अलावा उसके पास कोई विकल्प ही नहीं था.

 

Loading...