60-year-old came Hartatak 23 times in four hours, but escaped alive

कोच्चि। कहते हैं जिसके जीवन की डोर ऊपर वाले के यहां से मजबूत हो उसे कोई नहीं तोड़ सकता। ऐसी ही एक मामला कोच्चि में सामने आया है। यहां 60 साल के अजित अपने सात साल के पोते के साथ क्रिकेट खेल रहे थे, चार घंटों की छोटी सी अवधि के दौरान उन्होंने 23 बार हार्ट अटैक झेले लेकिन इतनी खतरनाक स्थिति के बाद भी वह जीवित बच गए।

लगातार धूम्रपान करने वाले अजित को सीने में दर्द की शिकायत पर हॉस्पिटल में ले गए यहां उनका ईसीजी किया गया तो पता चला कि उन्हें हार्ट अटैक आया है। लगातार आ रहे हार्ट अटैक से उनके दिल ने कई बार काम करना भी बंद कर दिया था आखिर में उन्हें दूसरे एस्टर मेडिसिटी नाम के हॉस्पिटल ले जाया गया। हॉस्पिटल के ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉ. ने बताया कि, चार घंटे में 23 बार अटैक आने का केस पहले नहीं सुना गया। उनके दिल ने धड़कना बंद कर दिया था, हमने उनके हार्ट में मौजूद ब्लॉक्स को स्टेंटिंग के जरिए खोला।

डॉक्टर्स का कहना है कि उनकी लाइफ थोड़ी धीमी जरूर होगी क्योंकि पम्पिंग से हार्ट पर 30 फीसदी का असर पड़ता है। इस घटना के बाद अजित का कहना है, मैं इस नए जीवन को बेहतर बनाना चाहता हूं। मैं रोज सुबह 20 मिनट की वॉक करता हूं और डॉक्टर्स द्वारा बनाए गए डाइट चार्ट को फॉलो करता हूं। यह आसान नहीं है लेकिन मैं हर गुजरते दिन के साथ और उत्साही होता जा रहा हूं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

 

 

Loading...